पूर्णियां : ईवीएम में कैद हो गया प्रत्याशियों का भाग्य एक अक्टूबर को होगी मतगणना

पूर्णियां से मलय झा की रिपोर्ट

जिले में दूसरे चरण से गांव की सरकार चुनने को लेकर वोट डाले गए। बनमनखी प्रखंड में चाक चौबंद व्यवस्था के साथ मतदान हुआ। प्रखंड के 361 मतदान केंद्रों पर शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न हो गया। जनता के वोटिंग मुहर के साथ भी प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में कैद हो गया। सुबह से ही मतदाता बूथों पर वोट डालने के लिये पहुंचने लगे। 24 पंचायतों के अलग अलग पदों के लिये सुबह 7 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया। सवेरे से ही वोटर कतारबद्ध होकर वोट गिराने का इंतजार करते दिखे।


कुल 1 लाख 88 हजार 318 वोटर 2 हजार 826 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम और बैलेट बॉक्स में बंद कर दिया। इसमें 97067 हजार पुरुष और 91 हजार 251 महिला मतदाता शामिल हैं। मुखिया, पंचायत समिति सदस्य, वार्ड सदस्य, जिला परिषद पद के लिए ईवीएम से मतदान हुआ  जबकि पंच और सरपंच पद के लिए बैलेट पेपर के माध्यम से मतदान की प्रक्रिया पूरी की गई। डीएम राहुल कुमार ने बताया कि चुनाव के मद्देनजर 24 पंचायतों के लिये 32 सेक्टर, 24 सुपर सेक्टर, जोनल सुपर जोनल दंडाधिकारी और पुलिस पदाधिकारी को नियुक्त किया गया। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न हुआ। फर्जी मतदान को रोकने के लिए हर एक बूथ पर बायोमेट्रिक जांच की गई। 10 बूथों पर लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई थी। चुनाव से संबंधित किसी भी तरह की सूचना के लिए जिला और प्रखंड स्तर पर कंट्रोल रूम बनाया गया। सभी ईवीएम को सील कर पोलिंग पार्टी और पोलिंग मजिस्ट्रेट पुलिस बल के जवानों के साथ पूरी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पूर्णियां कॉलेज स्थित मतगणना स्थल पर पहुंचाया जा रहा है। वज्रगृह के पास सुरक्षा बल के जवान चौकसी कर रहे हैं। 1 अक्टूबर को मतगणना होगी

  

Related Articles

Post a comment